Best 150+ Behtarin Shayari | बेहतरीन शायरी | Behtareen Shayari in Hindi

Behtarin Shayari – आपको इस पोस्ट में कुछ बेहतरीन शायरी का संग्रह दिया गया हैं. यह सभी Behtarin Shayari को हमारे लोकप्रिय और प्रसिद्ध शायरों द्वारा लिखी गई हैं. आप इस सभी Behtareen Shayari in Hindi को किसी आयोजन या मंच पर भी सुना सकते हैं

Behtarin Shayari

Behtarin Shayari
Behtarin Shayari

तुम्हे इतना पसंद करता है कम्बख्त दिल ए सनम,
कि मेरी पहली और आखिरी आरज़ू बस तुम हो।

tumhe itana pasand karata hai kambakht dil e sanam,
ki meree pahalee aur aakhiree aarazoo bas tum ho.

मेरी साँसों में आके बिखर जाओ तो अच्छा हो,
रूह बनके जिस्म में उतर जाओ तो अच्छा हो,
एक रात गोद में तेरी सिर रख के सो जाऊं,
फिर वो रात कभी ख़त्म ना हो तो अच्छा हो।

meree saanson mein aake bikhar jao to achchha ho,
rooh banake jism mein utar jao to achchha ho,
ek raat god mein teree sir rakh ke so jaoon,
phir vo raat kabhee khatm na ho to achchha ho.

अपने हसीन होंठों को परदे में छुपा लिया करो,
हम बड़े गुस्ताख हैं नज़रों से चूम लिया करते हैं

apane haseen honthon ko parade mein chhupa liya karo,
ham bade gustaakh hain nazaron se choom liya karate hain

हमने खड़े-खड़े साहिल पर शाम कर दी,
अपनी दुनिया आप के ही नाम कर दी,
ये भी न सोचा कैसे गुज़रेगी ये ज़िंदगी,
बिना सोचे हर ख़ुशी आपके नाम कर दी।

hamane khade-khade saahil par shaam kar dee,
apanee duniya aap ke hee naam kar dee,
ye bhee na socha kaise guzaregee ye zindagee,
bina soche har khushee aapake naam kar dee.

हमारे जीने का तरिका थोड़ा अलग सा है,
क्योंकि हम उम्मीद पर नही जिद पर जीया करते है।

बेहतरीन शायरी

में तो बस चिंगारी लगाता हूं, आग अपने आप लग जाती है।

ऐटिट्यूड स्टेटस इन हिंदी

सुनो ! मैं आज भी शतरंज का खेल अकेले ही खेलता हूं, क्योंकि दोस्तों के खिलाफ चाल चलना मुझे पसंद नही।

सफाई देने में अपना समय बर्बाद मत करों, लोग केवल वही सुनते है जो वो सुनना चाहते है।

उस ग़रीब को अपने परिवार के लिए लड़ते देखा है मैंने,
जीवन में पहली बार डर को भी डरते हुए देखा है मैंने।

यहाँ जरूरतों के हिसाब से सब बदलते नकाब हैं,
अपने गुनाहों पर सौ परदे डालकर…
हर शख्स कहता हैं कि जमाना बड़ा खराब हैं…

अजनबी दुनिया की उलझी हुई से राहों में,
जाने कैसे फंस गई रिश्तों की गुफाओं में,
मेरी साँसों पर भी मेरे अपने हक़ जताते हैं,
बहुत घुटन हैं मेरे आशियाने की हवाओं में…

घुट-घुट कर जीता हुआ आदमी एक दिन,
अचानक गुस्से पर काबू नही रख पाया,
कह गया जब अपनों को वह बुरा भला,
फिर रो-रोकर अपने किये पर पछताया…

रिश्तों को मजबूत बनाने के लिए
एक छोटा सा उसूल बनाते हैं,
रोज कुछ अच्छा याद रखते हैं
और कुछ बुरा भूल जाते हैं…

पढ़ाई के लिए घर छोड़ा, अब घर से दूर हो गया,
तरक्की के इस दौर में मेरा परिवार ना जाने कहाँ खो गया.

जो परिवार के हर गम को चुराता है,
वो शख्स सिर्फ़ तस्वीर में ही मुस्कुराता है.

मूरत ईश्वर की बनने को कुम्हार के हाथों आकार चाहिए,
ऐसे जीवन की नैया खेने को परिवार रुपी पतवार चाहिए।

यूँ ही न अपने मिजाज को चिडचिडा कीजिये,
कोई बात छोटी करें तो दिल बड़ा कीजिये…

जिन्दगी में किसी का साथ काफी है,
कंधे पर किसी का हाथ काफी हैं,
दूर हो या पास फ़र्क नही पड़ता,
सच्चे रिश्तों का तो बस एहसास काफ़ी हैं…

प्यार उसे करो जो तुम से प्यार करे
खुद से भी ज्यादा जो तुम पर ऐतबार करे
तुम बस एक बार कहो की, रूको दो पल
और वो उन दो पलों के लिए
पुरी जिन्दगी इंतजार करें।।।

Behtareen Shayari in Hindi

जाते हुए उसने देखा मुझे चाहत भरी निगाहों से
मेरी भी आंखों से आंसुओं की बरसात हुई !!

लोग कहते है कि,
इश्क इतना मत करो कि सिर पे सवार हो जाए,
हम कहते है के इश्क़ इतना करो,
के पत्थर दिल को भी तुमसे प्यार हो जाए…

Apne Shayari

अपने खिलाफ बाते खामोशी से सुन लो,
यकीन मानो वक्त बेहतरीन जवाब देगा।

Apane khilaaph baate khaamoshee se sun lo,
Yakeen maano vakt behatareen javaab dega.
Read more…

Apne Shayari

बेहतरीन लोग वो होते हैं जो अपने…
दुःख की परछाई दूसरों पर पड़ने नहीं देते…!!

बेहतरीन ज़रिया है कागज़ और कलम भी दर्द बयां करने का
सब कुछ कह देना और न आहें न आँसु

Behatareen zariya hai kaagaz aur kalam bhee dard bayaan karane ka
Sab kuchh kah dena aur na aahen na aansu

ना तड़पता दिल, ना रोती आंखें,
ना लबों पे नाम कोई और होता,
हम तेरी तमन्ना ही क्यों करते
अगर तेरे जैसा कोई और होता।

जो उनकी आंखों से बयां होते हैं,
वो लफ्ज शायरी में कहां होते है।

कैद खाने हैं बिन सलाखों के
कुछ यूं चर्चे हैं तुम्हारी आंखो के।

तेरा खयाल कागज पर बिखरता ही रहा,
इश्क उतर आया आंखो से देखते देखते।

तेरी निगाहों के जाल में ऐसा फंस गया
ना चाहते हुए भी तेरा हो गया।

हार, हारना नहीं, हार मान लेना है,
जीत तो खुद को एक और मौका देना है।

हकीकत करने हैं वो ख्वाब जो जागती आँखों से मैंने सजाये हैं
उसे पाने के लिए मैंने न जाने कितने ही लम्हें बिताये हैं,
मिल जायेगी जल्द ही मुझे जो बनायीं है मैंने मंजिल मेरी
कट रहा है अभी सफ़र जो मैंने अपने कदम बढाये हैं।

बेहतरीन हिन्दी शायरी

आती हैं और टकरा कर लौट जाती हैं
सागर की लहरें बार-बार यही दोहराती हैं,
काट देती हैं अंत में ये मजबूत चट्टानों को
कोशिश रंग लाती हैं ये हमें बताती हैं।

जो तैरने का इरादा किया है
तो तमन्ना यही है कि उस पार जाऊं,
मैं पाकर ही रहूँगा अब मुकाम अपना
क्योंकि मैं वो नहीं जो आसानी से हिम्मत हार जाऊं।

न मैं ही हारूँगा, न अपने हौसलों को टूटने दूंगा,
जो बुने हैं ख्वाब मैंने वो न वक़्त को मैं लूटने दूंगा
होगी मेरी भी एक जगह उन चमकते सितारों में
जो शुरू किया है सफ़र तो इसे अधूरा न छूटने दूंगा।

Best 150+ Behtarin Shayari | बेहतरीन शायरी | Behtareen Shayari in Hindi

Add a Comment

Your email address will not be published.