Top 30+ Mehboob Shayari in Hindi | महबूब के लिए शायरी

Mehboob shayari – अपने दिलबर को कोई प्रेमी जितनी दफा देखता है. उसे उतना ही अपने यार पर प्यार आता है. वह उसकी ख्यालों में हमेशा खो जाना चाहता है. Mehboob Shayari in Hindi उसकी कत्थई आंखें, उसके रेशम से लंबे बाल, उसके गालों का वो तील..! वो अपने दिलबर के बारे में जितना भी जिक्र करें. उतना शायद कम ही होगा.

Mehboob Shayari

Mehboob Shayari in Hindi
Mehboob Shayari in Hindi

सितम है लाश पर उस बेवफा का यह कहना,
कि आने का भी न किसी ने इंतज़ार किया।

इतनी मुश्किल भी ना थी, राह मेरी मोहब्बत की,
कुछ ज़माना खिलाफ हुआ, कुछ वो बेवफा हो गए।

सिर्फ एक ही बात सीखी इन हुस्न वालों से हमने​​,
​हसीन जिसकी जितनी अदा है वो उतना ही बेवफा है।

जुल्मो सितम सहते रहे एक बेवफा की आस मे,
डुबो दिया मुझे दरिया ने दो घूट की प्यास में।

सिर्फ एक ही बात सीखी इन हुस्न वालों से हमने​​,
​हसीन जिसकी जितनी अदा है वो उतना ही बेवफा है।

मत रो किसी बेवफा को याद करके,
वो खुश है तुझे यूँ बर्बाद करके।

अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किस से करूँ,
मुझ को तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफ़ा लगती है।

शरीके-ज़िंदगी तू है मेरी,
मैं हूँ साजन तेरा
ख्यालों में तेरी ख़ुश्बू है चंदन सा बदन तेरा

Shareeke-Zindagi Tu Hai Meri,
Main Hoon Sajan Tera
Khayalon Mein Teri Khushboo Hai Chandan Sa Badan Tera

तस्वीर बना कर तेरी आस्मां पे टांग आया हूँ ,
और लोग पूछते हैं आज चाँद इतना बेदाग़ कैसे है

Tasveer Bana Kar Teri Aasmaan Pe Tang Aaya Hoon ,
Aur Log Poochhate Hain Aaj Chaand Itana Bedaag Kaise Hai

महबूब की तारीफ में शायरी
तेरी अदाएं,
तेरे ये नाज़नीन से अन्दाज़,
अपनी अदा आप रखते हैं

महबूब के लिए शायरी

Teree Adaen,
Tere Ye Nazaneen Se Andaaz,
Apanee Ada Aap Rakhte Hain

ये सोचकर रोक लेता हूँ कलम को,
तेरी
तारीफ लिखते लिखते,

की कहीं इन
लफ़्ज़ों को सबसे बेहतरीन ..
होने का गुमान
ना हो जाये

Ye Soch Kar Rok Leta Hoon Kalam Ko,
Teri
Tareef Likhte Likhte,

Kee Kaheen In
Lafzon Ko Sabase Behatareen ..
Hone Ka Gumaan
Na Ho Jaaye

दुनिया से छुपा कर दिल में बसाया मुझे
काजल की तरह कभी आँखों में सजाया मुझे..

भोली सी लड़की ज़माने से छुपाती हैं इश्क
कभी गीतों के बहाने महफिलों में गुनगुनाया मुझे..

duniya se chhupa kar dil mein basaya mujhe
kajal ki tarah kabhi aankhon mein sajaya mujhe..
bholi si ladki jamane se chupati hai ishq
kabhi geeton ke bahane mehfilon mein gungunaya mujhe..

Top 30+ Mehboob Shayari

तेरा सुरूर छाया हैं मुझे मदहोश रहने दे
तेरी चाहत में हर हद से आज गुज़रने दे..

तेरे लबों को चूम कर बहक जाने दे मुझे
तेरी हसीन आँखों को जाम कातील कहने दे..

tera suroor chaya hai mujhe madhosh rahane de
teri chahat mein har had se aaj gujarne de..
tere labon ko chum kar bahak jaane de mujhe
teri haseen aankhon ko jaam katil kahane de..

Kuch Is Tarah Se Meri Zindagi Ko Maine Aasaan Kar Liya;
Bhulkar Teri Bewafai Apni Tanhai Se Maine Pyaar Kar Liya!

Pal Pal Uska Saath Nibhaate Hum
Aik Ishare Peh Duniya Chhor Jate Hum
Samundar K Beech Me Pohanch Kr Fareb Kiya Usne
Woh Kehta To Kinare Peh Hi Doob Jate Hum…

Mehboob Shayari in Hindi

Riwaayeton Ko Nibhane Ka Tha Saleeqa Us Ko,
Woh Bewafaayi Bhi Karta Raha Wafaa Ke Sath.

Sirf Ek Hi Baat Seekhi,
In Husn Waloon Se Hum Ne,
Haseen Jis Ki Jitni Ada Hai,
Woh Utna Hi Bewafa Hai..

Mehboob Shayari, महबूब के लिए शायरी, Top 30+ Mehboob Shayari in Hindi

Add a Comment

Your email address will not be published.